• ~ Mark Twain

    ~ Mark Twain

    "Loyalty to country "ALWAYS". Loyalty to government, when it deserves it."
  • smiles

    मुस्कान ..

    कभी यूँ ही बेवजह
    कभी बहुत से मायनी छिपाए हुए
    कभी आँखों ही आँखों में
    सब कुछ कह जाने वाली 
    कभी दर्द को छिपाने में थके चेहरे पर
    आते आते रह जाने वाली

    कभी बर्दाश्त की इंतहा पर होठों में खेलती
    कभी बस किसी तरह झूठ, नफ़रत सब कुछ झेलती
    कभी वायदों पर लगी मुहर सी मज़बूत
    कभी क़ायदों को निभाने का पक्का और पुख़्ता सुबूत

    कोई बेहद ठंडी मानो बर्फ़ उतर गई हो आँखों में
    कोई यूँ गर्म ज्यों जलता कोयला पलकों को झुलसा गया हो
    कोई यूं कि हर मुसीबत ग़ायब हो जाये इक चमक को देखकर
    कोई यूँ सब कुछ छीन ले जाए एक मुस्कान फेंककर

    जितने लोग उतनी तरह की मुस्कान
    एक ही चेहरे पर अलग अलग लोगों के लिए बिलकुल अलग मुस्कान