• ~ Mark Twain

    ~ Mark Twain

    "Loyalty to country ALWAYS. Loyalty to government, when it deserves it."
  • Picture1

    मैं बेटी ही मांगता ..

    ऐ मेरी दिली तमन्ना
    तू यूँ ही बने रहना

    मेरे सर का ताज़ होगी वो
    कि ये तुझसे है कहना
    वो प्यार, सम्मान, ताकत
    जिसे हर(समझदार) कोई मानता
    यही मेरी दिली तमन्ना
    कि मैं बेटी ही मांगता

    सलाम है उस गाँव को
    जहाँ बेटी हो तो पेड़ हैं लगाते
    सम्मान है उस परिवार का
    विपरीत परिस्थितयों में भी
    बेटियों का आगमन हैं सजाते
    यह वो श्रोत है जो
    जिंदगी को जिंदगी से बांधता
    यही मेरी दिली कामना
    कि मैं बेटी ही मांगता

    ना है कोई अंतर
    ना मैं होने दूंगा
    हो ख़ुशी चेहरे पर तेरे
    ना तुझे कभी रोने दूंगा
    डोर बने जो अपनों के लिए
    कुछ ऐसा है मेरा मानना
    यही मेरी दिली कामना
    कि मैं बेटी ही मांगता

    आँगन चहचहाए रखे
    वो चिड़ैया तू
    आँखों को जो सुकून दे
    वो प्यारी सी गुड़िया तू
    सूरज की पहली किरण
    जैसे जिंदगी से मेरा सामना
    यही मेरी दिली कामना
    कि मैं बेटी ही मांगता