• ~ Mark Twain

    ~ Mark Twain

    "Loyalty to country ALWAYS. Loyalty to government, when it deserves it."
  • chai aur gaay

    चुनाव से पहले चाय पे चर्चा और चुनाव के बाद गाय पे चर्चा …

    छत्तीसगढ़ में नेता जी की गौशाला में 200 गाय सिर्फ़ भुखमरी से मर गए हैं! पोस्टमॉर्टम में भुखमरी – पानी और चारा न मिलने के कारण मौत – की पुष्टि हो चुकी है। लेकिन अब तरह तरह की बातें होंगी – कुछ लोग आपको बताएंगे कि ख़राब मौसम के कारण गाय मर गए, कुछ कहेंगे बिल्डिंग की दीवार धंसने से मर गए। क्यूंकि यही होता है हर घटना के बाद – असल सवाल ही ग़ायब कर दिया जाता है। यहाँ भी हो सकता है। तैयार रहिएगा।

    आरोपी नेता जी उसी भारतीय जनता पार्टी से है जिसने समाज को गौरक्षा का सनातन संदेश देने का राजनीतिक ठेका लिया है। ऐसे ही फ़र्ज़ी नेता और उनके कई कार्यकर्ता आजकल नफ़रत की बारूद लिए दिन रात सड़कों पर घूम रहे हैं।

    पहले भी हरियाणा और अन्य बीजेपी शाषित राज्यों से गौशालाओं से बड़े पैमाने पर गौहत्या की ख़बरें आ चुकी हैं। इस मामले में तो बीजेपी घिर गई है। नेताओं से सवाल करिये तो वो बचते बचते कहेंगे कि कानून अपना काम करेगा।

    यानि कि हरियाणा और छत्तीसगढ़ में तो – “लॉ विल टेक इट्स ओन कोर्स।” बाकि इधर उधर कहीं आपको कोई इख़लाक़ या पहलू खान दिखे तो अफ़वाह फैलाकर तुरंत भीड़ इक्कठी करिये और मॉब लींचिंग कर दीजिए। माहौल बना रहना चाहिए।

    गाय पर चर्चा होती रहनी चाहिए। वरना लोग चाय पे चर्चा करने लगेंगे – बेरीज़गारी, महँगाई और किसानों के मुद्दों को लेकर !