• ~ Mark Twain

    ~ Mark Twain

    "Loyalty to country "ALWAYS". Loyalty to government, when it deserves it."
  • Author Archives: Rohit Kumar

    ROHIT KUMAR is a Law Graduate and a S.B.I Youth for India Fellow (2017-18) Batch.

    ‘कल्पनाधाम’ का संवैधानिक पहलु

    Kalpanadham

    कल्पनाधाम ‘ग्राम विकास आवासीय विद्यालय, कांकिया’ के लिए एक क्रांतिकारी कदम साबित हुआ है. यह विद्यालय ओड़िशा राज्य के गंजाम जिले में ब्रह्मपुर शहर से करीब 15 किमी दूर स्थित है. ‘कल्पनाधाम’ स्थापित करने का ...

    Read More »

    अटल टिंकरिंग लैब: वो आदिवासी बच्चों का एक सपना जो आखिरकार सच हुआ.

    School

    ओड़िशा राज्य में स्थित यह स्कूल लगभग 500 बच्चों के लिए अपने घर के समान है. इनमे से ज्यादातर बच्चे आदिवासी समुदाय से संबंध रखते हैं. सुबह और शाम के समय इन बच्चों को प्रार्थना ...

    Read More »

    मिटटी-पुत्र: मिलिए ‘जो मडीयथ’ से जिन्होंने एक आशा को सिंचित किया है.

    Joe Cycling(1)

    उनके व्यक्तित्व की सुन्दरता उनके गहरे समर्पण एवं भेदभाव से लड़ने की उनके अप्रतिम शक्ति में निहीत है. उनके समर्पण की गहराई उनके दूरदर्शिता का सीधा-समानुपाती है. जमीनी स्तर पर समाज के सबसे वंचित समुदायों ...

    Read More »

    दीपावली का ‘दीप-दर्शन’

    deepawali

    2010 के बाद जब से अध्ययन के सिलसिले में बाहर रहना हुआ, तब से अनेक पर्व आये और गए, मसलन दीपावली, छठ, होली, दशहरा मकर संक्राति इत्यादि. अध्ययन के दरम्यान भी कई बार इन पर्वों ...

    Read More »

    ‘कवि-नीरज’ के मर जाने से, ‘शब्द-नीरज’ नही मरा करता है !

    niraj-300x225

    “छिप-छिप अश्रु बहाने वालों, मोती व्यर्थ लुटाने वालों ! ‘कवि-नीरज’ के मर जाने से, ‘शब्द-नीरज’ नही मरा करता है !!” मुझे ठीक-ठीक याद नही है, शायद वर्ष 2010 ही रहा होगा. उस समय मैं बोकारो ...

    Read More »

    शिखर और घाटी

    pic 1

      सुबह का समय था. वह पहाड़ के पैरों तले खड़ा होकर पर्वत के शिखर को अनिमेष नेत्रों से निहारे जा रहा था, बिलकुल गर्दन सीधी ऊपर किये हुए, ठीक वैसे ही जैसे घनघोर अकाल ...

    Read More »