• ~ Mark Twain

    ~ Mark Twain

    "Loyalty to country "ALWAYS". Loyalty to government, when it deserves it."
  • Congress_partyflag_Reuters

    बहुमत की ओर कांग्रेस

    बीजेपी को मज़ाक़ भी नहीं आता । क्या कर सकती है । पिछले चुनाव में मनमोहन सिंह को गंभीरता से नहीं लिया जिसका ख़मियाज़ा हार से भरना पड़ा । कमज़ोर प्रधानमंत्री का मुद्दा लेकर आडवाणी निकले थे । आडवाणी को लगा कि जनता भाषण देने की कला के आधार पर उन्हें चुन लेगी और मनमोहन हार जायेंगे । ऐसा हुआ नहीं । कमज़ोर ही प्रधानमंत्री बना । मज़बूत आडवाणी कमज़ोर हो गए ।

    इसलिए जब अपना वोट डालने के बाद मनमोहन सिंह ने कहा कि कांग्रेस को बहुमत आयेगा तो बीजेपी ने गंभीरता से लिया । मनमोहन सिंह को अनेकानेक मनोरंजक लतीफों से नवाज़ने वाली बीजेपी को हँसी नहीं आई । इस चुनाव में मनमोहन पहले कांग्रेसी हैं जो बहुमत का दावा कर रहे हैं । जिस राहुल के नेतृत्व में कांग्रेस चुनाव लड़ रही है वो भी मानती है कि दस साल सरकार में रहने के कारण काफी नुक़सान हो सकता है । यही बात किसी और नेता ने कही होती तो बीजेपी के प्रवक्ता हँसी में उड़ा देते मगर आश्चर्यजनक रूप से भाजपा के सभी बड़े नेताओं ने मनमोहन के इस बयान की धुलाई की है । कोई गुज़ाइश नहीं छोड़ी ।

    अपने चुनाव अभियान में मोदी ने भी कमज़ोरी के नाम पर मनमोहन सिंह की आडवाणी छाप धुलाई नहीं की । लुधियाना में पगड़ी पहनकर भी नहीं कहा कि वे मनमोहन सिंह से ज़्यादा बड़े सरदार हैं । दिल्ली विधानसभा चुनाव की पहली रैली में मोदी ने मनमोहन के सरदार होने पर टिप्पणी की थी मगर उसके बाद से लचर और बेकार सरकार कह कर ही हमले करते रहे । मनमोहन सिंह भुला से दिये गए । इस चुप्पी को तोड़ा चुप रहने वाले मनमोहन सिंह ने । बीजेपी बेचैन हो गई ।

    मनमोहन सिंह भी मोदी को देख कर हँसते होंगे । अपने किसी एकांत में कहते होंगे कि जिस कुर्सी पर मैं दस साल बैठा रहा उसे पाने को लिए इतनी मेहनत करनी पड़ती है ! बाप रे । ये मोदी जी इतनी रैलियाँ क्यों कर रहे हैं । इतने इंटरव्यू क्यों दे रहे हैं । इतने कुर्ते क्यों पहन रहे हैं ? लुंगी पहनकर रजनीकांत के साथ फोटू खींचकर ट्वीट क्यों कर रहे हैं । इतने ग़ुस्से में क्यों हैं । मैंने तो जी ये सब कुछ किया ही नहीं । मेरी रैली में लोग भी नहीं आए । फिर भी मैं दस साल प्रधानमंत्री रहा । वैसे मीडिया के दिग्गज इंटरव्यूबाज़ों ने यह क्यों नहीं सोचा कि जो प्रधानमंत्री दस साल रहकर जा रहा है उसका भी एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू छाप दें । सौ सुनार की तो एक सरदार की । कांग्रेस बहुमत लाएगी । किसी सर्वे ने कहा होता तो गाली देने के साथ हँसते कि नहीं ।